Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 5

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 5

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 10

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 10

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 19

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 19

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 39

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/includes/header.php on line 39

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/includes/categorylist.php on line 8

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/includes/categorylist.php on line 8

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/news_detail.php on line 22

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/news_detail.php on line 22

Deprecated: Function mysql_db_query() is deprecated in /home/gnn38198/public_html/news_detail.php on line 28

Deprecated: mysql_db_query() [function.mysql-db-query]: This function is deprecated; use mysql_query() instead in /home/gnn38198/public_html/news_detail.php on line 28

पांच घंटे सदन में डटे रहे कांग्रेसी, नतीजे का खु

GNN NEWS, Jul 19th, 2012

दो विधायकों के निष्कासन और सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित होने के बाद भी कांग्रेस विधायक पांच घंटे तक सदन में डटे रहे। न तो निष्कासित विधायक चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी बाहर निकले और न कल्पना परुलेकर। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने जरूर सदन से बाहर आकर मीडिया से बात की। कांग्रेसी विधायक दोपहर 12 बजकर 4 मिनट से लेकर 5 बजकर 10 मिनट तक सदन में रहे।

इस बीच पूरे घटना क्रम को लेकर बुधवार शाम तक भाजपा और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के बीच कई दौर की बातचीत हुई। कांग्रेस की ओर से विधानसभा उपाध्यक्ष हरवंश सिंह ने राज्यपाल, मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष ईश्वर दास रोहाणी से बात की। करीब 4.30 बजे संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा भी विपक्षी विधायकों से मिलने सदन के अंदर गए। उन्होंने हरवंश और अजय सिंह से बात की। करीब 20 मिनट की चर्चा के बाद मिश्रा सदन से बाहर निकले। उनके पीछे-पीछे हरवंश भी बाहर आए।

नेता प्रतिपक्ष के कक्ष में दोनों के बीच फिर पांच मिनट बात हुई। इसके बाद मिश्रा विधानसभा से रवाना हो गए और हरवंश सदन में चले गए। ठीक पांच बजकर 10 मिनट पर कांग्रेस के सभी विधायक सदन से बाहर निकले। कांग्रेस विधायकों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ विधानसभा परिसर और बाहर जमकर नारेबाजी की। मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस नेताओं से उनकी बातचीत हुई है, लेकिन इसका खुलासा नहीं कर सकते। हरवंश सिंह ने भी कहा कि सबसे बात हुई है। सिंह ने कहा कि मंगलवार को जो हुआ, वह ठीक नहीं था, लेकिन बुधवार को बिलकुल गलत हुआ। इतनी बड़ी बात नहीं थी कि दो विधायकों की सदस्यता ही समाप्त कर दी जाए। यह दो विधायकों की राजनीतिक हत्या जैसा कृत्य है।

भेदभावपूर्ण है अध्यक्ष की कार्रवाई

नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाया है कि विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी ने कांग्रेस विधायकों के खिलाफ भेदभावपूर्ण कार्रवाई की है। नेता प्रतिपक्ष ने 17 जुलाई की विधानसभा की कार्यवाही का हवाला देते हुए कहा कि 11:35 बजे जब कांग्रेस विधायक आसंदी को घेर कर खड़े थे उसी समय सत्तापक्ष के जयंत मलैया, कैलाश विजयवर्गीय, अजय विश्नोई, अनूप मिश्रा और विश्वास सारंग भी आसंदी के नजदीक आकर अपनी बात कह रहे थे। सभापति ने 11:40 बजे विधानसभा की कार्रवाई दस मिनट के लिए स्थगित कर दी थी। ऐसे में कांग्रेस विधायकों के साथ भाजपा के सदस्यों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए थी।

 

पद बचाने रोहाणी ने की कार्रवाई

प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष मानक अग्रवाल ने आरोप लगाया है कि विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी ने अपना पद बचाने के लिए कांग्रेस विधायकों की सदस्यता छीन ली है। प्रतिबंधित संगठन सिमी के सरगना अब्दुल रज्जाक और सरताज से रोहाणी के संबंधों का खुलासा होने के बाद उनका पद खतरे में पड़ गया था। इस मामले को विधानसभा में उठने से रोकने के लिए रोहाणी ने न केवल दो सदस्यों की सदस्यता समाप्त की, बल्कि सत्र भी तीन दिन में स्थगित कर दिया।